Thursday , 16 August 2018
Breaking News
Home / Christians News India / भारत के इस शहर में जीते जी हो रही है ‘मौत’ की तैयारी, जानिए क्यों

भारत के इस शहर में जीते जी हो रही है ‘मौत’ की तैयारी, जानिए क्यों

भारत में यूपी के गोरखपुर में लोग ‘जीते जी’ कब्रिस्तान में अपने लिए एडवांस बुकिंग करा रहे हैं. चौकिए मत, मौत के बाद भी पति-पत्नी एक दूसरे के साथ रहे, इस ख्वाहिश से ईसाई समाज के लोग ऐसा कर रहे हैं. इस शहर में ईसाइयों की आबादी करीब 25 हजार है.

पति पत्नी की एक साथ दफन क्रब की फोटो.
पति पत्नी की एक साथ दफन क्रब की फोटो.

5 दंपति की है एक साथ क्रब

बता दें कि पैडलेगंज में अभी तक 5 दंपति इस तरह से एक दूजे के साथ दफनाए जा चुके हैं. हाल ही में एक महिला ने अपने पति के कब्र के पास अपने लिए जगह बुक कराई है. यह कब्रिस्तान करीब 300 साल पुराना है. इसमें 150 से ज्यादा कब्रें अंग्रेजों की हैं.

10 हजार में कराई एडवांस बुकिंग

कब्र बुक कराने वाले सुनील हर्शल मैथ्यू ने एक न्यूज़ चैनल से खास बातचीत में बताया कि उन्होंने 10 हजार रुपये में अपनी पत्नी की कब्र के बगल में अपने लिए एडवांस जगह बुक कराई है. उनका कहना है कि जब मेरी मौत हो तो मुझे मेरी पत्नी की कब्र के बगल में ही दफनाया जाए. मैथ्यू बताते है कि इससे मुझे और मेरी पत्नी को शांति मिलेगी.



मैथ्यू ने कहा कि मेरे पिता ने भी अपनी पत्नी के बगल में ही जगह बुक कराई थी और उन्हें मरने के बाद वहीं दफनाया गया था. नम आंखों से अपनी पत्नी को याद करते हुए मैथ्यू कहते हैं कि हमारे धर्म में कहा भी गया है कि पति पत्नी का एक अटूट रिश्ता होता है.

 

3 पुश्तों से कर रहें हैं कब्रिस्तान की देखभाल 

कब्रिस्तान की देखरेख करने वाले राहुल प्रजापति बताते है कि उसके पूर्वज पिछले 3 पुश्तों से कब्रिस्तान की देखभाल कर रहें हैं. यहां पर कुछ लोग जीते जी अपने लिए कब्रों की एडवांस बुकिंग करवा रहे हैं.

कब्र की बुकिंग कराने वाले सुनील हर्शल मैथ्यू .
कब्र की बुकिंग कराने वाले सुनील हर्शल मैथ्यू .

 



2 गज जमीन की एडवांस बुकिंग

प्रजापति बताते है कि इस प्रथा को निभाने का एक सबसे बड़ा कारण यह भी है कि लगातार जगह सीमित होती जा रही है. लोगों को मरने के बाद 2 गज जमीन नसीब हो इसलिए वह पहले से ही एडवांस बुकिंग कराकर अपने लिए कब्र सुरक्ष‍ित कर रहे हैं.

क्या बोले ईसाई धर्मगुरु

ईसाई समाज के धर्मगुरु फादर रिबेल ने कहा कि ये कहीं ना कहीं कब्रिस्तानों की संख्या कम होने से इस प्रथा को निभाना एक मजबूरी बन गई है. फादर रिबेल बताते है कि हमारे धर्म में ऐसा बोला भी गया है कि पति पत्नी का एक अटूट रिश्ता होता है, जिसे वह मरते दम तक निभाते हैं. यही कारण है कि लोग जीते जी अपने जीवन साथी के साथ दफन होने के लिए कुछ पैसे देकर कब्र की बुकिंग करा रहे हैं.

 

Comment

About admin

Check Also

ਸੁਖਪਾਲ ਖਹਿਰਾ ਪਹੁੰਚੇ ਰੇਪ ਪੀੜਤਾਂ ਦੇ ਪਰਿਵਾਰ ਦਾ ਪਤਾ ਲੈਣ- Sukhpal khehra visited 7 years gurdaspur rape victim Innocent Anjali home

ਸੁਖਪਾਲ ਖਹਿਰਾ ਪਹੁੰਚੇ ਰੇਪ ਪੀੜਤਾਂ ਦੇ ਪਰਿਵਾਰ ਦਾ ਪਤਾ ਲੈਣ- Sukhpal khehra visited 7 years gurdaspur rape victim Innocent Anjali home

ਸੁਖਪਾਲ ਖਹਿਰਾ ਪਹੁੰਚੇ ਰੇਪ ਪੀੜਤਾਂ ਦੇ ਪਰਿਵਾਰ ਦਾ ਪਤਾ ਲੈਣ- Sukhpal khehra visited 7 years ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *